Tokens, Keywords and Identifiers in C Programming – भाग 5

Tokens in C Programming in Hindi

आज हम सीखेंगे की C प्रोग्रामिंग में What is Tokens, Identifiers, & keywords in C Programming in Hindi तो हम अध्याय शुरू करते हैं। जैसा की हम जानते है की C प्रोग्रामिंग में टोकन को मूल बिल्डिंग ब्लॉक कहा जाता हैं जो C प्रोग्राम में प्रत्येक छोटी इकाई को C टोकन के रूप में जाना जाता है। आसान शब्दों में, टोकन की मदद से पुरा प्रोग्राम बनता है। प्रोग्राम में इस्तेमाल होने वाले हर छोटे से छोटे हिस्से को टोकन (Tokens) कहा जाता है।सरलता से समझने के लिए हम C प्रोग्राम को विभिन्न टोकन का संग्रह भी कह सकते है। इसलिए टोकन का उपयोग सही क्रम में सीखना बहुत आवश्यक है क्योंकि कई अन्य लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा ने C का सिंटेक्स फॉलो किया है, जैसे C++, जावा आदि इसलिए C प्रोग्रामिंग भाषा का सिंटेक्स (Syntax) समझना बहुत जरूरी है। निचे दिए गए C प्रोग्राम को देखिये हमने किस प्रकार  C टोकन का सही क्रम में इस्तेमाल किया है।What is Tokens, Identifiers, & keywords in C Programming in Hindi

C टोकन निम्नलिखित प्रकार के होते हैं:

  • Keywords (eg: int, while)
  • Identifiers (eg: main, total)
  • Constants (eg: 10, 20)
  • Strings (eg: “total”, “hello”)
  • Special Symbols (eg: (), {})
  • Operators (eg: +, /,-,*)

Keywords in C Programming in Hindi

कीवर्ड पूर्वनिर्धारित (Predefined), आरक्षित शब्द (Reserved Words) होते हैं, जिनका अर्थ कम्पाइलर (Compiler) द्वारा पहले ही समझाया गया है।इसका मतलब है कि एक C भाषा डिजाइन करने के समय, कुछ शब्द विशिष्ट कार्यों को करने के लिए आरक्षित होते हैं। ऐसे शब्दों को कीवर्ड (या) आरक्षित शब्द कहा जाता है। सभी सी कंपाइलर 32 कीवर्ड का समर्थन करते हैं। C प्रोग्रामिंग भाषा में कुल 32 कीवर्ड होते हैं।

autodoubleintstruct
breakelselongswitch
caseenumregistertypedef
charexternreturnunion
constfloatshortunsigned
continueforsignedvoid
defaultgotosizeofvolatile
doifstaticwhile

What is Identifiers in C Programming in Hindi

Identifiers अक्षर (alphabets) और अंक (Digit) का अनुक्रम होता हैं, लेकिन Keywords को Identifiers के रूप में उपयोग नहीं किया जाता है। C प्रोग्रामिंग में Identifiers अल्फाबेट (A to Z (or) a to z), डिजिट्स : (0 to 9), अंडरस्कोर ( _ ) के संयोजन का उपयोग करके प्रोग्रामर द्वारा बनाए गए variable, function, structure, union इत्यादि को दिया गया नाम होता हैं।  Identifiers के दो प्रकार के होते हैं “Variable” & “Constant“। Identifiers को नाम डिक्लेयर करते समय निम्नलिखित कुछ नियम हैं, जिनका आपको पालन करना चाहिए।

यहां, money और accountBalance आइडेंटिफायर हैं।

  1. पहला करैक्टर अल्फाबेट या अंडरस्कोर होना चाहिए।
  2. अल्फाबेट (a to z ), डिजिट्स (0 to 9 ) और अंडरस्कोर (_) का उपयोग करना होता हे।
  3. अंडरस्कोर को छोड़कर विराम चिह्न और स्पेशल कैरक्टर की अनुमति नहीं है।
  4. C प्रोग्रामिंग में Identifiers Case Sensitive होते हैं उदाहरण के लिए, age और AGE दो अलग Identifiers हैं।
  5. Identifiers कीवर्ड नहीं होना चाहिए।
Difference Between Keywords and Identifiers in Hindi
BASIS FOR COMPARISONKEYWORDIDENTIFIER
Basicकीवर्ड C भाषा के आरक्षित शब्द है।Identifiers Variable, Function, और Labels के User-Defined Names हैं।
Useविशिष्ट कार्यों को करने के लिए प्रीडिफाइंड।अल्फाबेट (A to Z (or) a to z), डिजिट्स : (0 to 9), अंडरस्कोर ( _ ) के संयोजन का उपयोग करके बनाए गए variable, function, structure, union इत्यादि को दिया गया नाम।
Formatकेवल अक्षरों का समर्थन करता हैं।अल्फाबेट, डिजिट्स और अंडरस्कोर का समर्थन करता हैं।
Caseकेवल लोअरकेस की अनुमति हैं।लोअर और अपरकेस, दोनों की अनुमति है।
Symbolकोई विशेष चिह्न और विराम चिह्न का उपयोग नहीं किया जाता है।‘Underscore’ को छोड़कर कोई विराम चिह्न या विशेष चिह्न का उपयोग नहीं किया जाता है।
Classificationकीवर्ड को आगे वर्गीकृत नहीं किया जाता है।Identifiers को ‘external name’ और ‘internal name’ के रूप में वर्गीकृत किया जाता है।
Starting letterयह हमेशा लोअरकेस अक्षर से शुरू होता है।पहला अक्षर अपरकेस, लोअरकेस या अंडरस्कोर हो सकता है।
Exampleint, char, if, while, do, class आदि।Test, count1, high_speed, आदि।

इन्हें भी देखें –Button

प्रिय पाठकों, मै आशा करता हूँ की आपको हमारी What is Tokens, Identifiers, & keywords in C Programming in Hindi पर यह पोस्ट बहुत पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे जरुर अपने दोस्तों के साथ शेयर करे। हमने कोशिस किया है की What is Tokens, Identifiers, & keywords in C Programming in Hindi की संपूर्ण जानकारी आसान और विस्तृत रूप में वर्णन कर सके। यदि आपको और अधिक जानकारी की आवश्यकता है तो आप यहाँ क्लिक कर पढ़ सकते है, अगर आपको कोई भी उलझन हो तो निचे कमेंट कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी. यदि आप हमसे सम्पर्क करना चाहते है या आपके पास कोई सुझाव है तो आप हमसे संपर्क करे। हम आपके सुझाव का स्वागत करते हैं, हमारी यूट्यूब चैनल देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

कृपया ध्यान दें: नीचे दिए गए बटन के माध्यम से आप हमारी फेसबुक ग्रुप को जॉइन और हमारे एंड्रॉइड एप्प फ्री डाउनलोड कर सकते है। हमारे इस एप्प का उद्देश्य प्रतियोगता परीक्षाओं की तयारी करने वाले छात्रों को नवीन माध्यम द्वारा ज्ञान उपलब्ध करवाना है। जिससे वह अपने मोबाइल द्वारा ही समस्त जानकारी प्राप्त कर सके, आपको हमारा यह प्रयास कैसा लगा हमें जरूर बताएं।

Dear Visitors, अगर आपके पास कोई ज्ञानवर्धक जानकारी है जिससे आप लोगो के साथ बाँटना चाहते है तो हमसे संपर्क कीजिए हमें ईमेल भेजिए–[email protected] यदि पोस्ट अच्छी हुई तो हम जरूर आपके नाम के साथ उसे प्रकाशित करेंगे।
आशा है आपको ये शानदार पोस्ट पसंद आई होगी. 
इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें, Sharing Button पोस्ट के निचे है।

Leave a Reply

error: DMCA Protected !!