Variables and Constants in C Programming – भाग 3

वेरिएबल क्या होता है? (What is Variable in Hindi)

आज हम सीखेंगे की C प्रोग्रामिंग में वेरिएबल और कांस्तान्ट्स क्या होते है? (Variables and Constants in C Programming in Hindi) तो हम अध्याय शुरू करते हैं। जैसा की हम जानते है की वेरिएबल (Variable) एक ऐसा एंटिटी (Entity) है, जिसका वैल्यू (Value) हमेशा बदलता है अर्थात वेरिएबल की वैल्यू फिक्स्ड (Fixed) नहीं होती है।

Variables and Constants in C Programming in Hindi

सरल शब्दों में हम वेरिएबल में डाटा टाइप्स (Data Types) की वैल्यू को संग्रहीत करते है और यह एक मेमोरी लोकेशन (Memory Location) का नाम होता है।

int Age = 25;

C प्रोग्रामिंग में वेरिएबल के प्रकार (Types of Variables in C Programming in Hindi)

  • Local Variable
  • Global Variable
  • Static Variable
  • Automatic Variable
  • External Variable

C प्रोग्रामिंग में वेरिएबल डिक्लेयर कैसे करे? (How to Declare Variables in C Programming in Hindi)

प्रोग्रामिंग में हमेशा हमें डाटा (Data) को मेमोरी (Random Access Memory) में संग्रहीत करना पड़ता है और कंप्यूटर मेमोरी में बहुत सारे मेमोरी सेल्स होते है, हर एक मेमोरी सेल्स का एक एड्रेस होता है जो कुछ जटिल रूप (Complex Form) में होता है इसलिए कंप्यूटर मेमोरी में डाटा को स्टोर करने के लिए हम उस मेमोरी लोकेशन को एक नाम देते है, जिसे हम वेरिएबल (Variable) कहते है और हम जो वैल्यू (Value) उस मेमोरी लोकेशन में स्टोर करते है उसे हम कांस्तान्ट्स (Constants) कहते और उसी वेरिएबल का इस्तेमाल करके हम उस मेमोरी लोकेशन (Memory Location) की वैल्यू को बदल भी सकते है।

आसान शब्दों में, वेरिएबल मेमोरी लोकेशन का प्रतिनिधित्व (Represent) करता है और इसकी सहायता से हम उस मेमोरी लोकेशन को एक्सेस (Access) और उसमे स्टोर्ड वैल्यू (Stored Value) को बदल भी सकते है, प्रोग्रामिंग में हम इसी प्रक्रिया को हम वेरिएबल डिक्लेरेशन (Variable Declaration) कहते है।

उदाहरण 1)

#include <stdio.h>
 main()
 {
  int a=10; 
  printf("The value of a is %d",a);
 }

Output:

The Value of a is 10
कांस्तान्ट्स क्या होता है? (What is Constant in Hindi)

C प्रोग्रामिंग में, हम अक्षरों (Alphabets), संख्याएं (Numbers) और कुछ विशेष प्रतीकों (Symbols) यह सब को संयुक्त (Combined) करके कांस्तान्ट्स (Constants), वेरिएबल्स (Variables) और कीवर्ड (Keywords) बनाते है। यह जो कांस्तान्ट्स है और जैसा की इसका नाम बताता है, यह एक एंटिटी (Entity) है जिसका वैल्यू (Value) कभी नही बदलता है अर्थात कांस्तान्ट्स (Constants) की वैल्यू फिक्स्ड (Fixed) होती है।

  • Integer Constants: 28, 69, 123
  • Real Constants: 25.12, 66.66, 33.33
  • Character Constant: ‘a’ , ‘A’ , ‘=’ , ‘9’
C प्रोग्रामिंग में कांस्तान्ट्स के प्रकार (Types of Constants in C Programming in Hindi)
Constant TypeExample
Integer Constant2, 10, -2
Decimal Constant2, 10, -2
Octal Constant02, 010
Hexadecimal Constant0x12, 0x1f
Floating-Point/Real Constant-2.4, 4.8
Character Constant‘i’, ‘s’
String Constant“Hello”, “Hi”
Preprocessor#define a 5

इन्हें भी देखें –

प्रिय पाठकों, मै आशा करता हूँ की आपको हमारी “Variables and Constants in C Programming in Hindi” पर यह पोस्ट बहुत पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे जरुर अपने दोस्तों के साथ शेयर करे। हमने कोशिस किया है की Variables and Constants in C Programming in Hindi की संपूर्ण जानकारी आसान और विस्तृत रूप में वर्णन कर सके। यदि आपको और अधिक जानकारी की आवश्यकता है तो आप यहाँ क्लिक कर पढ़ सकते है, अगर आपको कोई भी उलझन हो तो निचे कमेंट कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी. यदि आप हमसे सम्पर्क करना चाहते है या आपके पास कोई सुझाव है तो आप हमसे संपर्क करे। हम आपके सुझाव का स्वागत करते हैं, हमारी यूट्यूब चैनल देखने के लिए यहाँ क्लिक करे

कृपया ध्यान दें: नीचे दिए गये “Register Now” बटन के माध्यम से आप हमे निशुल्क ज्वाइन कर सकते हैं। नवीनतम जॉब अपडेट पाने के लिए आप हमारे फेसबुक ग्रुप को जॉइन कर सकते हैं और हमारे एंड्रॉइड एप्प को भी डाउनलोड कर सकते हैं। हमारे इस एप्प का उद्देश्य प्रतियोगता परीक्षाओं की तयारी करने वाले छात्रों को नवीन माध्यम द्वारा ज्ञान उपलब्ध करवाना है। जिससे वह अपने मोबाइल द्वारा ही समस्त जानकारी प्राप्त कर सके, आपको हमारा यह प्रयास कैसा लगा, हमें कमेंट में जरूर बताएं।

register-button

Dear Visitors, अगर आपके पास कोई ज्ञानवर्धक जानकारी है जिससे आप लोगो के साथ बाँटना चाहते है तो हमसे संपर्क कीजिए हमें ईमेल भेजिए–[email protected] यदि पोस्ट अच्छी हुई तो हम जरूर आपके नाम के साथ उसे प्रकाशित करेंगे।

आशा है आपको ये शानदार पोस्ट पसंद आई होगी।
इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें, Sharing Button पोस्ट के निचे है।

Er. Shivam Pandey holds B.Tech degree in Computer Science & Engineering from Netaji Subhas Institute of Technology | Bihta, Patna. He is MCSE, RHCE, or CCNA certified and currently working as a Network Specialist at Tata Consultancy Services Limited.

Leave a Comment

error: DMCA Protected !!
37 Shares
Share37
Tweet
Pin
Share