CMOS क्या है? जानिये सब कुछ हिंदी में

what is cmos battery in hindiआज हम जानेंगे की CMOS क्या है? सीएमओएस (CMOS) फुल फॉर्म की जानकारी, कंप्यूटर सिस्टम में CMOS की आवश्यकता क्यों होती है और इसका कार्य क्या है, CMOS से सम्बंधित समस्याओं और समाधान आदि संपूर्ण जानकारी तो चलिये शुरू करते है।

CMOS क्या होता है? (What is CMOS?)

सीएमओएस (CMOS) “Complementary Metal Oxide Semiconductor” यह मदरबोर्ड का एक भौतिक भाग है जो एक विशेष प्रकार की मेमोरी चिप होती है जो एक बैटरी द्वारा संचालित होता है, तब भी जब पीसी बंद हो जाता है, यह चिप जानकारी संग्रहीत करता है जो आपके कंप्यूटर के समय और दिनांक सेटिंग्स को संग्रहीत रखता है यह एक उन्नत चिप टेक्नोलॉजी है जो बहुत कम बिजली पर काम करता है इसलिए बैटरी एक लंबे समय तक चलती है जो अच्छा है, क्योंकि कंप्यूटर या लैपटॉप को खोल कर मदरबोर्ड के CMOS चिप को बदलना एक गैर तकनीकी उपयोगकर्ता के लिए काफी जटिल कार्य है अगर आपके कंप्यूटर के समय और दिनांक सेटिंग्स बार बार बदल जाते है जो इसका सीधा सा मतलब ये है की आपके मदरबोर्ड पर स्थित सीएमओएस बैटरी फ़ैल है अर्थात CMOS बैटरी अपनी शक्ति खो चुका है हमे उसे बदलने की जरुरत है CMOS आपको कंप्यूटर को समय और दिनांक सेटिंग्स को संग्रहीत करने में सक्षम बनाता है। सीएमओएस बैटरी एक सिक्के के आकार का लिथियम आयन बैटरी होता है यदि आपका CMOS बैटरी फ़ैल हो जाता है, तो आपका कंप्यूटर बंद होने पर आपकी BIOS सेटिंग उनके डिफ़ॉल्ट पर रीसेट हो जाएंगी क्यूंकि CMOS एक चिप होता है जब भी आप अपने कंप्यूटर के BIOS कॉन्फ़िगरेशन को चेंज करते हैं तो वह सेटिंग्स बायोस चिप पर नही इसके बजाय, CMOS चिप पर संग्रहीत होता है इसमें 256 बाइट्स डाटा स्टोर करने की क्षमता होती है हर बार कंप्यूटर रिस्‍टार्ट या पॉवर ऑन होने पर, कंप्यूटर इस कॉन्फ़िगरेशन को याद रख सके इसके लिए CMOS बैटरी लगातार CMOS चिप को पॉवर सप्लाई करता रहता है यह 3 volts पॉवर करती है यह दस साल तक बिना बैटरी बैटरी बदले लगातार पॉवर सप्लाई करती रहती है भले ही कंप्यूटर बंद हो या चालू तो चलिए अब CMOS बैटरी का पूरा नाम जानते है।

CMOS का पूरा नाम क्या है? (What is the Full Form of CMOS?)

सीएमओएस (CMOS) का पूरा नाम है “Complementary Metal Oxide Semiconductor” है जिसे हिंदी में “पूरक धातु-ऑक्साइड सेमीकंडक्टर” कहते है यह एक अर्धचालक चिप है जो बैटरी से संचालित होता है तो चलिए सीएमओएस (CMOS) का फुल फॉर्म जाने के बाद आपसे इसके उपयोग के बारे में जानते है।

CMOS का उपयोग क्या है? (What is the Use of CMOS?)

CMOS सेटअप आपको सिस्टम की मूल सेटिंग्स सेट करने में सक्षम बनाता है। जैसे दिनांक और समय आप CMOS सेटअप विकल्पों का उपयोग करके हार्ड डिस्क के लिए सेटिंग्स दर्ज कर सकते हैं। CMOS सेटअप पृष्ठ निम्न विकल्पों को प्रदर्शित करता है:

  • Date: सिस्टम दिनांक सेट करता है।
  • Time: सिस्टम समय सेट करता है।
  • SATA1: प्राथमिक SATA चैनलों से जुड़े उपकरणों को कॉन्फ़िगर करता है।
  • SATA2: कनेक्टेड डिवाइस को दूसरे SATA चैनलों को कॉन्फ़िगर करता है।
  • E-SATA1: कनेक्टेड डिवाइस को बाहरी प्राथमिक SATA चैनलों को कॉन्फ़िगर करता है।
  • System Information: हार्डवेयर के बारे में सभी जानकारी प्रदान करता है यह सिस्टम में कुल मेमोरी को भी दिखाता है।
CMOS बैटरी की लाइफ कितनी होती है? (What is the Average Lifespan of a CMOS Battery?)

CMOS बैटरी की लाइफ लगभग 5-10 साल होती है। हालांकि, यह उपयोग और वातावरण के आधार पर भिन्न हो सकता है जिसमें कंप्यूटर का उपयोग होता है। CMOS चिप आपके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क ड्राइव, तिथि और समय को संग्रहीत करता है, इसलिए CMOS बैटरी कभी फ़ैल नहीं होना चाहिए।

क्या होता है जब CMOS बैटरी फेल हो जाती है? (What Happens When CMOS Battery Fails?)

ऐसा नही है की CMOS बैटरी के फैल हो जाने पर कंप्यूटर अपना काम करना बंद कर देगा नही हम जब भी अपने कंप्यूटर के BIOS कॉन्फ़िगरेशन को चेंज करके SAVE करेंगे वो सेटिंग्स तब तक ही CMOS चिप में मौजूद रहेगी जब तक CMOS चिप को पॉवर मिलता रहेगा मगर जैसे ही कंप्यूटर रीस्टार्ट होगा वो सेटिंग्स डिफ़ॉल्ट पर रीसेट हो जाएंगी कुंकी जब कंप्यूटर बंद अवस्था में था तब CMOS बैटरी फ़ैल होने के कारण पॉवर सप्लाई नही कर सकी और BIOS सेटिंग डिफ़ॉल्ट पर रीसेट हो गयी इसीलिए CMOS बैटरी फ़ैल नही होना चाहिए इससे समय और दिनांक, Boot Device Priority आदि अन्य फ़ंक्शन रीसेट हो जाएंगे। चलिए अब आपको मैं एक ट्रिक सिखाता हु मान लीजिये आपने अपने BIOS की सेटिंग्स गलत कॉन्फ़िगर कर दी अब आपके कंप्यूटर सिस्टम मे समस्या हो रही है आप BIOS डिफ़ॉल्ट सेटिंग भूल चुके है और अब आप टेंशन मे है और चाहते है की BIOS सेटिंग्स को डिफ़ॉल्ट पर रीसेट कर दु तो आप सबसे अच्छा अपने कंप्यूटर के CPU को खोल कर मदरबोर्ड पर स्थित CMOS बैटरी को निकाल कर दुबारा लगा दे CMOS चिप पॉवर सप्लाई के अभाव में डिफ़ॉल्ट सेटिंग्स पर रीसेट हो जाएंगी और इस तरह से आप BIOS/CMOS से सम्बंधित समस्याओं का आसनी से समाधान कर सकते है।

newइन्हें भी देखें –

प्रिय पाठकों, मै आशा करता हु की आपको हमारा CMOS क्या है? और इसके उपयोग पर ये पोस्ट काफी पसंद आया होगा। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे जरुर अपने दोस्तों के साथ शेयर करे। हमने कोशिस किया है की CMOS क्या है? और उसकी संपूर्ण जानकारी आसन और विस्तृत रूप में वर्णन कर सके। यदि आपको और अधिक जानकारी की आवश्यकता है तो आप यहा क्लिक कर पढ़ सकते है अगर आपको कोई भी उलझन हो तो निचे कमेंट कर सूचित करें, आपको तुरंत सही और सटीक सुचना आपके इच्छित विषय से सम्बंधित दी जाएगी. यदि आप हमसे सम्पर्क करना चाहते है या आपके पास कोई सुझाव है तो आप हमसे संपर्क करे। हम आपके सुझाव का स्वागत करते हैं, हम जल्द ही इसकी मोबाइल-एप्प भी आप तक लाने का प्रयास करेंगे। हमारी यूट्यूब चैनल देखने के लिए यहाँ क्लिक करे |

Dear Visitors, अगर आपके पास कोई ज्ञानवर्धक जानकारी है जिससे आप लोगो के साथ बाँटना चाहते है तो हमसे संपर्क कीजिए हमें ईमेल भेजिए–[email protected] यदि पोस्ट अच्छी हुई तो हम जरूर आपके नाम के साथ उसे प्रकाशित करेंगे।

आशा है आपको ये शानदार पोस्ट पसंद आई होगी. 
इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें, Sharing Button पोस्ट के निचे है।

Join Our Hindi Community of 5,00,000+ Readers!

सब्सक्राइब करें और पाएं अपडेट सीधे अपने इनबॉक्स में

सदस्यता लेने के लिए धन्यवाद।

कुछ गलत हो गया।

पेन ड्राइव को बूटेबल कैसे बनाये (How to Make Bootable USB Pendrive)
पेन ड्राइव को बूटेबल कैसे बनाये – जानें हिन्दी मे
कंप्यूटर हार्डवेयर ऑनलाइन टेस्ट (Computer Hardware Online Test) - Free
कंप्यूटर हार्डवेयर ऑनलाइन टेस्ट | Quiz | Exam
प्रिंटर क्या है और उसके प्रकार (What is Printer and Types of Printer)
प्रिंटर क्या है और उसके प्रकार – जाने हिन्दी मे
Computer Assemble कैसे करे (How to Assemble a Computer)
Computer Assemble कैसे करे? विस्तार से जानिए
error: DMCA Protected !!